हनुमान जी के अलावा इस समस्या को दूर शायद ही कोई और कर पायें, शनिवार कर लें इतना सा काम

Share this

पवन पुत्र श्री बजरंग बली जी जल्द ही प्रसन्न होने वाले देवताओं में से एक हैं, जो भी इनकी शरण में आता हैं उन दुखी जनों की सहायता करते हैं । इस दुनिया में मनुष्यों की अनेकों समस्याएं है लेकिन एक समस्या ऐसी है जिसको केवल हनुमान जी ही दूर कर सकते है । इसके अलावा भी किसी समस्या से घिरे हुए है तो शनिवार के दिन सूर्योदय से लेकर सूर्यास्त के बीच इस छोटे से उपाय को जरूर कर लें, इससे समस्या दूर होने के साथ अनेक मनोकामनाएं पूरी हो जाती है ।

हनुमान चालीसा में एक पंक्ति आती हैं कि- भूत पिशाच निकट नहीं आवै, महावीर जब नाम सुनावे । कहा जाता हैं अगर किसी के उपर प्रेत पिशाच भटकती आत्माओं का साया हो जो अनेक प्रयास के बाद भी ये बाधा दूर नहीं हो पा रही हो तो इनसे छुटकारा केवल हनुमान जी ही दिला सकते हैं । इसके अलावा भी अगर धन आवक में बार बाधाएं आ रही हो तो शनवार के दिन इस काम को जरूर कर लें ।

1- अगर कोई भूत प्रेत बाधा से पीड़ित हो तो उस पीड़ित व्यक्ति को महाबली श्री बजरंग बली के मंदिर में ले जाकर श्री बजरंग बली के गदा एवं पैर का सिंदूर का टीका लगायें । उसके बाद इस मंत्र का 108 बार जप कर एक गिलास पानी को अभिमंत्रित करके वह पानी प्रेत बाधा से पीड़ित व्यक्ति के उपर थोड़ा सा छिड़कर पूरा पानी पिला दें । तुरंत लाभ होगा ।
इस मंत्र का जप करें-
मंत्र
।। ॐ हनुमन्नंजनी सुनो वायुपुत्र महाबल: । अकस्मादागतोत्पांत नाशयाशु नमोस्तुते ।।
।। ॐ हं हनुमते रुद्रात्मकाय हुं फट् ।।

2- अपनी विशेष मनोकामना धन प्राप्ति की पूर्ति के लिए इस मंत्र का शनिवार को 108 बार जप करें ।
।। ॐ महाबलाय वीराय चिरंजिवीन उद्दते । हारिणे वज्र देहाय चोलंग्घितमहाव्यये ।।

3- समस्त संकटों से मुक्ति के लिए शनिवार के दिन सुबह 4 से 6 बजे के बीच किसी प्राचीन बजरंग बली के मंदिर में जाकर लाल ऊनी आसन पर बैठकर इस मंत्र का 1100 बार जप करने के बाद 7 बार श्री हनुमान चालीसा का पाठ करें ।
।। ॐ नमो हनुमते रूद्रावताराय सर्वशत्रुसंहारणाय सर्वरोग हराय सर्ववशीकरणाय रामदूताय स्वाहा ।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *