कैसे और क्यों मनाते हैं चैती छठ पर्व, जानिये तिथि, मुहूर्त और महत्व

Share this

वर्ष 2019 में चैती छठ कब मनाई जायेगी, यह पर्व कहाँ कहाँ मनाया जाता है, यह पर्व कब से शुरू है तथा व्रत के महत्वपूर्ण दिन कौन-कौन से है, आइए अब हम विस्तार से जानते है। हिन्दू धर्म में मनाए जाने वाले महत्वपूर्ण त्योहारों में से एक है छठ पूजा।

chaiti chhath

छठ पर्व साल में दो बार मनाया जाता है पहली बार चैत्र में और दूसरी बार कार्तिक मास में। चैत्र शुक्ल पक्ष षष्ठी पर मनाये जाने वाले छठ पर्व को चैती छठ व कार्तिक शुक्ल पक्ष षष्ठी पर मनाये जाने वाले पर्व को कार्तिकी छठ कहा जाता है।

चैती छठ क्यों मनाते है?

छठ पूजा का यह पावन पर्व सूर्य देव की उपासना के लिए होता है। इसके पीछे भी एक पौराणिक कथा है, मान्यता है की छठी मैया सूर्य भगवान की बहन है, इस दिन अगर हम सूर्य देव की पूजा-अर्चना करते है तो छठी मैया बहुत जल्दी प्रसन्न होती है और जातक की इच्छाएँ तथा मनोकामनाएं पूर्ण होती है। पारिवारिक तथा दाम्पत्य जीवन में सुख-समृद्धी तथा मनोवांछित फल प्राप्ति के लिए यह पर्व मनाया जाता है। स्त्री और पुरुष समान रूप से इस पर्व को मनाते हैं।

छठ पर्व की शुरुआत कैसे हुई? 

मान्यता है की देव माता अदिति ने सबसे पहले छठ पूजा की थी।  एक कथा के अनुसार प्रथम देवासुर संग्राम में जब असुरों के हाथों देवता हार गये थे, तब देव माता अदिती ने तेजस्वी पुत्र प्राप्ति के लिए देवारण्य के देव सूर्य मंदिर में देवी छठी मैया की पूजा-अर्चना की थी। तब प्रसन्न होकर छठी मैया ने उन्हें सर्व गुण संपन्न तेजस्वी पुत्र होने का वरदान दिया था। इसके बाद अदिति के पुत्र हुए त्रिदेव रूप आदित्य भगवान, जिन्होंने असुरों पर देवताओ को विजय दिलायी। कहते है उसी समय से देव सेना षष्ठी देवी के इस नाम पर इस धाम का नाम देव हो गया और छठ का चलन भी आरम्भ हो गया।

चैती छठ कब मनाते है?

हिन्दू पंचांग के अनुसार, हिन्दू नववर्ष के पहले महीने चैत्र के शुक्ल पक्ष की षष्ठी तिथि को छठ मनाई जाती है।  यह छठ चैत्र महीने में मनाई जाती है, इसलिए इसको चैती छठ कहा जाता है।

कहाँ मनाया जाता है यह पर्व?

यह पावन पर्व बिहार, झारखंड और नेपाल के कुछ हिस्सों में बड़ी श्रद्धा के साथ मनाया जाता है। इसके अलावा यूपी, दिल्ली और मुंबई के कुछ हिस्सों में यह पर्व मनाया जाता है।

आइए जानते है, इस वर्ष छठ पूजा की शुरुआत किस दिन से हो रही है-

9 अप्रैल 2019 से 12 अप्रैल 2019 तक यह पर्व मनाया जायेगा

तारीख दिन तिथि पर्व
9 अप्रैल 2019 मंगलवार चतुर्थी नहाय-खान
10 अप्रैल 2019 बुधवार पंचमी लोहंडा या खरना
11 अप्रैल 2019 वीरवार षष्ठी संध्या अर्ध्य
12 अप्रैल 2019 शुक्रवार सप्तमी उषा अर्ध्य पारण का दिन

किसी भी जानकारी के लिए Call करें :  8882540540

ज्‍योतिष से संबधित अधिक जानकारी और दैनिक राशिफल पढने के लिए आप हमारे फेसबुक पेज को Like और Follow करें : Astrologer Online

कैसे और क्यों मनाते हैं चैती छठ पर्व, जानिये तिथि, मुहूर्त और महत्व

5 (100%) 2 votes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *