जन्माष्टमी 2019 : केवल एक बार कर लें ये उपाय, विवाह, संतान और धन आवक में आने वाली हर बाधा हो जाएंगी दूर

Share this

23 एवं 24 अगस्त 2019 को जन्माष्टमी का पर्व मनाया जाएगा। पूरे देश में श्रीकृष्ण भक्त जन्माष्टमी पर्व कृष्ण जन्माष्टमी का पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। ऐसी मान्यता है कि इस दिन कुछ सरल से उपायों को किया जाए तो आर्थ‍िक तंगी, शादी विवाह में आ रही बाधाएं एवं संतान सुख की इच्छा आदि अनेक समस्यों के निवारण के लिए जन्माष्टमी का पर्व बहुत ही खास माना जाता है। जानें अपनी परेशानियों को जन्माष्टमी के दिन दूर करने के आसान उपाय।

Balaram Jayanti : इस दिन बलराम जी का पूजन करने से होती है संतान की रक्षा, जानें हलछठ की पूरी कथा

1- शादी विवाह में आ रही बाधाओं के लिए – जन्माष्टमी के दिन शादी विवाह में आ रही बाधाओं को दूर करने के लिए भगवान कृष्ण को सुगन्धित जल अर्पित करने के बाद ताजे पीले फूलों की माला एवं खूले फूल अर्पित करने के बाद इस मंत्र का जप 2100 बार करें।
मंत्र-
“ॐ गोकुल नाथाय नमः।।

krishna janmashtami 2019

2- संतान सुख की प्राप्ति के लिए- श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के दिन सुबह एवं रात्रि में दोनों समय भगवान कृष्ण के बाल रूप लड्डू गोपाल जी की मूर्ति का पति-पत्नी दोनों ही पंचामृत से अभिषेक करें। अभिषेक के पूर्व लड्डू गोपाल जी के सामने गाय के घी का दीपक जलाएं। अब अभिषेक करने के बाद संतान प्राप्ति का भाव करते हुए इस मंत्र का 1100 बार जप करें। गोपाल जी की कृपा से संतान सुख की प्राप्ति अवश्य होगी।

मंत्र-

“ॐ क्लीं देवकी सुत गोविन्द वासुदेव जगत्पते।
देहि मे तनयं कृष्ण त्वामहं शरणं गता।।

हर मनोकामना होगी पूरी, इस जन्माष्टमी जप लें इनमें से कोई भी एक मंत्र

3- धन प्राप्ति के लिए- भगवान नारायण के अवतार श्रीकृष्ण के जन्मोत्सव “जन्माष्टमी” के दिन धन प्राप्ति की कामना से पीतांबरी वस्त्र भेट करें। माखन, मिसरी में तुलसी दल मिलकार भोग लगायें। इतना करने के बाद इस मंत्र का जप एक हजार बार करें।

मंत्र-

“ॐ लीलादंड गोपीजनसंसक्तदोर्दण्ड बालरूप मेघश्याम भगवन विष्णो स्वाहा।।

krishna janmashtami 2019

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के दिन अपनी इच्छित मनोकामनाओं की पूरी के भाव से उपरोक्त मंत्रों का जप तुलसी या चन्दन की माला से ही करें। भगवान की कृपा से आपकी सभी इच्छाएं पूरी होगी।

**************

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *