अंकज्योतिष 30 अगस्त 2019: आज पीपल के पेड़ की 5 परिक्रमा लगाएं, दिन अनुकूल रहेगा

Share this

ज्योतिषाचार्य गुलशन अग्रवाल

अंक 01- मन न लगने की स्थिति में घर के महत्वपूर्ण कार्यों को करने से बचें। अन्यथा आर्थिक नुकसान हो सकता है। तेजी मंदी के व्यापार में पूरे समय भ्रम की स्थिति बनी रहेगी।
अनुकूलता के लिए- मौसमी फल का सेवन कर घर से निकलें।

अंक 02- वर्तमान परिस्थिति देखते हुए उच्च शिक्षित व्यक्तियों को गहन अध्ययन की ओर रुचि बढ़ानी चाहिए। करीबी मित्रों का साथ मनोरंजन के क्षेत्र में अत्यधिक धन खर्च कराएगा।
अनुकूलता के लिए- घी का दीपक देवी मंदिर में लगाए।

अंक 03- अपने द्वारा रखे गए वाणी संयम पैतृक संपत्ति के विवादों को निपटाने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेंगे। महत्वपूर्ण विषयों में निर्णयात्मक स्थिति को टालने का प्रयत्न करें।
अनुकूलता के लिए- पक्षियों के दानापानी की व्यवस्था करें।

अंक 04- कर्मचारियों में अपनी बात को मनवाने के लिए अपने ज्ञान का समुचित उपयोग करना होगा। कार्यस्थल पर निर्णय लेने की स्थिति में अपनी ओर से मनमानी करने से बचें।
अनुकूलता के लिए- प्रातःकाल संत प्रवचन का श्रवण करें।

अंक 05- पारिवारिक आयोजन में हिस्सा न ले पाने के कारण रिश्तेदारी में अनबन के योग बनते हैं। आमदनी का बड़ा हिस्सा शेयर मार्केट में खो देने के कारण दिक्कतों में ईजाफा होगा।
अनुकूलता के लिए- पीपल के वृक्ष की 5 परिक्रमा लगाएं।

अंक 06- लाभांष में दिन प्रतिदिन कमी के चलते कई महत्वपूर्ण मुद्दों में कटौती करना पड़ सकती है। करबद्ध काम मिलने से मजदूर वर्ग की पहले से चल रही मुसीबतें कम होने लगेगी।
अनुकूलता के लिए- रूपये के दुरूपयोग से बचकर रहें।

अंक 07- वरिष्ठों का उपर्यक्त सहयोग न मिल पाने के कारम नये काम से प्राप्त लाभांष में कमी दिखाई देगी। घर ग्रहस्थी में एक दूसरे के कार्यों में बिना वजह दखल देने से बचें।
अनुकूलता के लिए- पंचगव्य से भोलेनाथ का अभिषेक करें।

अंक 08- अपने चरित्र को पाक साफ बनाए रखने के लिए काफी मशक्कत करना पड़ सकती है। नौकरीपेशा व्यक्ति को अपने उच्चाधिकारियों के कोप का शिकार होना पड़ सकता है।
अनुकूलता के लिए- एक कनेर का पुष्प अपने पास में रखें।

अंक 09- संस्थान में कठिन समस्या बुद्धिबल से हल करने के कारण घोर विराधी भी आपकी कुशलता के कायल होंगे। स्वास्थ्य्य से जुड़ी छोटी-छोटी बातें पूरे समय परेशान रखेगी।
अनुकूलता के लिए- चंदन का तीलक लगाकर कार्य शुरु करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *