Aaj Ka Ank Jyotish: जानें किस मूलांक का कैसा रहेगा रविवार

Share this

अंक 01: अतिरिक्त धन लाभ के कारण दिक्कतें बढ़ सकती है। कार्यो को समय से पहले करने की ओर अग्रसर रहेंगे। अचानक आए कामकाज निपटाने के लिए खर्च करना जरूरी होगा। अनुकूलता के लिए कुत्ते को रोटी तोड़कर खिलाएं।

अंक 02: युवाओं को सजग रहते हुए कार्य करने होंगे। अपनी अल्प बचत को कुछ समय के लिए भुनाना पड़ सकता है। काम की विफलता धर्म के रास्ते में भटकाव ला सकती है। अनुकूलता के लिए गरीबों में गर्म दूध का वितरण करें।

अंक 03: सांस्कृतिक कार्यक्रमों में व्यस्तता के चलते रोजमर्रा के कामकाज को व्यवस्थित करने में परेशानी आ सकती है। रिश्तेदारी में गलतफहमी के कारण संबंधों में खटास आ सकती है। अनुकूलता के लिए निशक्तजनों को वस्त्र दान में दें।

अंक 04: आज के समय में पाश्चात्य संस्कृति के प्रभाव से बचते हुए पैसों के महत्व को समझने की जरूरत है। वाहनों से संबंधित कामकाज में अच्छी रफ्तार बनी रहने की संभावना है। अनुकूलता के लिए पीपल मे वृक्ष के नीचे दीपक लगाएं।

अंक 05: अपनी सोच को व्यावहारिक बनाने के साथ-साथ चरित्रवान बने रहने की ओर भी ध्यान देना होगा। कानूनी मसलों में अपनी भावुकता के चलते गलत निर्णय ले सकते हैं। अनुकूलता के लिए यथासंभव कन्या भोजन कराएं।

अंक 06: कामकाज का पूरा बोझ आपके ऊपर रहेगा। बोलने में वाणी की मिठास व संयम रखना जरूरी होगा। खाने-पीने में गरिष्ठ भोजन को छोड़ सुपाच्य भोजन को पहले प्राथमिकता दें। अनुकूलता के लिए दैनिक धार्मिक पूजन मन से करें।

अंक 07: नौकरी के महत्व को समझते हुए अधिकारी वर्ग से आगे बढ़ने की कोशिश न करें। अग्निकारक वस्तुओं के प्रयोग में सावधानी से काम लें अन्यथा चोटिल हो सकते हैं। अनुकूलता के लिए हनुमान मंदिर मे गुड़ चने का प्रसाद चढ़ाएं।

अंक 08: परिवार के साथ किसी तीर्थस्थल पर जाने के योग बन रहे हैं। संपत्ति विवाद के सुलझने में आ रही दिक्कतें कम होने लगेंगी। विद्यार्थियों में खोया आत्मविश्वास पुनः प्राप्त होगा। अनुकूलता के लिए श्रीकृष्ण को तुलसी की माला अर्पित करें।

अंक 09: व्यावसायिक प्रतिष्ठान में अपनी वाणी का प्रयोग कम से कम करें। कर्मचारियों के असहयोग से परेशानी में रहेंगे। धार्मिक सत्संग का प्रभाव कदमों को बहकने से बचाएगा। अनुकूलता के लिए देवी दुर्गा मंदिर में सप्तश्लोकी दुर्गापाठ करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *