खरमास की शुरुआत, इन तिथियों में दान करें ये चीजें, मिलेगा दोगुना पुण्य

Share this

खरमास की एकम तिथि से लेकर अमावस्या तिथि तक करें ये काम

13 दिसंबर 2019, शुक्रवार के दिन से खरमास प्रांरंभ हुआ। इसके साथ ही इस दिन से शादियों पर रोक लग गई, क्योंकि हिंदू मान्यताओं के अनुसार खरमास में विवाह सहित अन्य मांगलिक कार्य नहीं किये जाते हैं। लेकिन पूराणों के अनुसार खरमास में धार्मिक तीर्थस्थलों पर स्नान व दान करने से विशेष महत्व माना जाता है।

पढ़ें ये खबर- यहां कन्याओं को होती है मनचाहे वर की प्राप्ति, अद्भुत है मां का दरबार एक बार जरुर करें दर्शन

दान के लिये पंडित रमाकांत मिश्रा का कहना है कि अगर खरमास में दान तिथियों के अनुसार किये जायें तो इसका पुण्य फल बहुत अधिक प्राप्त होता है। तो आइए तिथियों के अनुसार क्या करें दान…

खरमास की शुरुआत, इन तिथियों में दान करें ये चीजें, मिलेगा दोगुना पुण्य

खरमास की एकम तिथि से लेकर अमावस्या तिथि तक करें ये काम

– खरमास की एकम तिथि को घी से भरा चांदी का कोई बरतन दान करें। कहा जाता है कि इस इन चीजों का दान करने से मानसिक शांति रहती है और नकारात्मकता हमेशा दूर रहती है।

– द्वितीया तिथि के दिन मंदिर में कांसे के पात्र में सोना रखकर दान करें, ऐसा करने से घर की बरकत हमेशा बनी रहती है और धन का भंडार भरा रहता है।

– तृतीया तिथि के दिन किसी गरीब को चने दान करें , जीवन सुखमय रहेगा व घर के तनाव कम होंगे।

– चतुर्थी तिथि के दिन मंदिर में जाकर खारक दान करें, इस दिन ये दान करने से व्यक्ति के व्यापार और व्यवसाय सहीत धन में वृद्धि होती है।

– पंचमी तिथि के दिन गुड़ का दान करें, माना जाका है कि खरमास की पंचमी तिथि के दिन गुड़ दान करने से घर और बाहर हर जगह सम्मान प्राप्त होता है।

खरमास की शुरुआत, इन तिथियों में दान करें ये चीजें, मिलेगा दोगुना पुण्य

– षष्ठी तिथि के दिन औषधि का दान करना चाहिये, इस दिन ये चीज दान करने से जातक को सभी रोगों से मुक्ति मिलती है।

– सप्तमी तिथि के दिन लाल चंदन का दान करें, ऐसा करने से जातक के विवेक में वृद्धि होती है।

– अष्टमी तिथि के दिन रक्त चंदन का दान करना शुभ माना जाता है। इस दिन रक्त चंदन का दान वयक्ति के मान-सम्मान में वृद्धि लाता है।

– नवमी तिथि के दिन केसर का दान करें, इस दान को करने से जातक का सोया हुआ भाग्य चमकता है।

– दशमी तिथि के दिन कस्तूरी का दान करना अच्छा माना जाता है, ऐसा करने से भगवान विष्णु सभी मनोकामना पूरी करते हैं।

– एकादशी तिथि के दिन तांबे के बर्तन दान करने से जातक के व्यापार-व्यवसाय में वृद्धि के साथ-साथ धन वृद्धि भी होती है।

– द्वादशी तिथि के दिन शंख का दान करना चाहिये। ऐसा करने से धन वृद्धि के साथ धनलाभ भी होता है।

– माना जाता है कि त्रयोदशी तिथि के दिन किसी मंदिर में घंटी दान करना चाहिये, ऐसा करने से दांपत्य जीवन में आ रही दिक्कतें खत्म होती है।

– चतुर्दशी तिथि के दिन सफेद मोती दान करें, सभी नकारात्मकता दूर रहेगी।

– पूर्णिमा तिथि के ‍दिन रत्न का दान करें, धन की प्राप्ति होती है।

– अमावस्या तिथि के दिन अनाज दान करें, सभी परेशानियों से मिलेगी मुक्ति।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *