शनि का राशि परिवर्तन किसके लिए होगा शुभ और किसके लिए अशुभ

Share this

शनि 24 जनवरी के दिन अपनी राशि यानी कि मकर में प्रवेश करेगा। जब वह मकर राशि में प्रवेश करेगा तब उसकी तृतीय दृष्टि मीन पर, सप्तम दृष्टि कर्क पर और दशम दृष्टि तुला पर रहेगी। 12 मई से लेकर 29 सितंबर तक शनि वक्री रहेगा। जब शनि अस्त और वक्री स्थिति में होता है तो फल की कमी आती है और वक्री स्थिति में कार्य देरी से होते है।

जानिये 12 राशियों के लिए कैसा रहेगा शनि का ग्रह परिवर्तन:

मेष

मेष राशि वालों के लिए एवं लग्न वालों के लिए दशम भाव से भ्रमण करने की वजह से व्यापार में उन्नति मिलेगी। इसी के साथ में नौकरीपेशा भी लाभान्वित होंगे।  नए एवं नए कार्यों की योजना बनेगी। जो लोग बेरोजगार है वह भी रोजगार पाने में सफल होंगे। बाहरी मामलों में भी बहुत ही सावधानीपूर्वक सफल होते नजर आ रहे है। आपका पारिवारिक समय भी मिला जुला रहेगा और ठीक रहेगा। दांपत्य जीवन में भी अनुकूल स्थिति रहेगी।

वृषभ

वृषभ राशि और लग्न वालों के लिए नवम भाव से मकर का शनि गोचर भ्रमण करेगा। इसी के साथ में भाग्य में वृद्धि होगी और पिता का सहयोग मिलेगा। नौकरीपेशा और व्यवसाय में सुखद स्थिति आएगी और आप महसूस करेंगे। शनि के गृह परिवर्तन की वजह से आर्थिक लाभ के योग बनते रहेंगे। शत्रु वर्ग परास्त होंगे और कोर्ट से सम्बंधित कार्यों में भी सफलता मिलेगी। स्वास्थ्य उत्तम रहेगा और किसी के कर्ज है तो कर्ज की स्थिति कम होगी।

मिथुन

मिथुन राशि वालों के लिए शनि का गोचर भ्रमण अष्टम भाव में होने से प्रारम्भ के सवा साल में काफी परेशानियों से गुजरना पड़ सकता है। आपके कार्यों में देरी होगी, वही दूसरी ओर धन कुटम्बियों का सहयोग मिलने की वजह से बहुत राहत भी मिलेगी। संतान पक्ष से सहयोग मिलेगा, स्वास्थ्य उत्तम रहेगा और विद्यार्थी वर्ग के लिए समय सुखद रहेगा और भाग्य साथ देगा।

कर्क

कर्क राशि वाले जातको के दांपत्य जीवन में अनुकूलता बनी रहेगी। दूसरी ओर दैनिक व्यवसाय भी उत्तम रहेगा। अगर स्वास्थ्य की दृष्टि से देखा जाए तो समय ठीक से व्यतीत होगा। समय आपके पक्ष में रहेगा। पारिवारिक मामलो में सहयोग के साथ साथ में ही प्रसन्नता भी रहेगी। आपके मकान और भूमि के सम्बंधित मामलों में कार्य बनते हुए नजर आएगे। जीवन साथी की बहुत मदद और महत्वपूर्ण सहयोग मिलेगा।

सिंह

सिंह राशि वालों के लिए मकर का शनि षष्ट भाव से गोचर भ्रमण करने से शत्रुओं का नाश होगा। अगर कोई कर्ज है तो उससे भी मुक्ति मिलेगी। बाहरी मामलों में सुधार होगा और यात्राओं के योग बनेगे। आपके पराक्रम में वृद्धि होगी। भाइयों का सहयोग मिलने से आपको राहत भी महसूस होगी। साझेदारी से अनुकूल सफलता मिलेगी।

कन्या

कन्या राशि वालों के लिए शनि का गोचरीय भ्रमण पंचम भाव से होने की वजह से संतान पक्ष से सहयोग के साथ में प्रसन्नता रहेगी। विद्यार्थी वर्ग भी अनुकूल स्थिति पाएगे। आय के साधनों में वृद्धि होगी और इच्छित कार्य भी बनेगे। आपके कुटुंब के लोगों का सहयोग मिलेगा वही साथ में धन की बचत भी होगी। आपकी वाणी के प्रभाव से रुके हुए कार्य भी बनेगे।

तुला

तुला राशि वालों के लिए मकर राशि में कारक होकर चतुर्थ भाव से गोचर भ्रमण करने से पारिवारिक समस्याओं का समाधान होगा। वही दूसरी ओर घर की आशा भी पूरी होगी। आपकी माता के स्वास्थ्य में सुधार आएगा। व्यापार- व्यवसाय एवं नौकरी आदि में अनुकूल स्थिति पाएगे। इससे प्रभाव में वृद्धि होगी और स्वास्थ्य भी ठीक रहेगा। आप अपने महत्वपूर्ण कार्य में सफल होंगे।

वृश्चिक

वृश्चिक राशि वालो के लिए मकर का शनि तृतीय भाव से गोचर भ्रमण करने से पराक्रम में यथेष्ट वृद्धि होगी। भाइयों का सहयोग मिलने की वजह से प्रसन्नता रहेगी, भाग्य भी अनुकूल स्थिति में रहेगा और कार्य सुगमता रहेगी। पारिवारिक समय भी बहुत सुखद रहेगा। जनता से मिले जुले कार्य भी बनेगे।  बाहरी मामलों में सहयोग के साथ साथ सफल भी होंगे। आपके यात्राओं के योग बनते रहेंगे।

धनु

धनु राशि वाले जातकों के लिए मकर का शनि द्वितीय भाव से भ्रमण करने से आर्थिक स्थिति में सुधार होकर रास्ते खुलेंगे। आपको छोटे भाइयों का सहयोग मिलेगा। धन कुटुम्बियों का सहयोग मिलने से प्रसन्नता रहेगी। वाणी का प्रभाव बढ़ेगा। पारिवारिक स्थिति में सुधार होगा, वही माता के स्वास्थ्य में अनुकूलता रहेगी। मकानी कर्ज हो तो वह दूर होगा।

मकर

मकर राशि वालों के लिए लग्न से भ्रमण करने से प्रभाव में वृद्धि होगी, वही दूसरी ओर  बाहरी संबंधों में भी सुधार होगा। आपकी यात्रा के योग बनते रहेंगे। दाम्पत्य जीवन में सुखद वातावरण रहेगा। आर्थिक प्रयास सफल होते नजर आ रहे है। अकस्मात लाभ के योग बनेगे। पदोन्नति से भी लाभ मिल सकता है। पराक्रम की मदद से अनुकूल स्थितियां बनाने में सफल होंगे। धन की भी बचत होगी।

कुम्भ

कुम्भ राशि वालों के लिए मकर के शनि के 12वें भाव से भ्रमण करने से बाहरी मामलों में सहयोग के साथ साथ कार्य में भी प्रगति आएगी। आस पास की दुरी के लिए यात्रा होती रहेगी। शत्रु पक्ष का प्रभाव बना रहेगा। अगर कर्ज की स्थिति है तो वह दूर होगी। भाग्य के अनुकूल स्थिति होने से रुके हुए कार्यों में सफलता प्राप्त होगी। पिता का सहयोग मिलने की वजह से प्रसन्नता रहेगी।

मीन

मीन राशि वालों के लिए मकर के शनि के आय भाव एकादश से भ्रमण करने से आर्थिक स्थिति में सुधार होकर अर्थलाभ पाएगे। विद्यार्थी वर्ग के लिए समय उत्तम रहेगा। संतान पक्ष का सहयोग मिलने की वजह से राहत का अनुभव होगा। स्वास्थ्य की नजर से समय ठीक ही रहेगा। छोटे भाइयों का सहयोग मिलने की वजह से प्रसन्नता रहेगी।

Like and Share our Facebook Page.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *