केवल 7 दिनों में पूरी होगी मनचाही इच्छा, कर लें ये काम

Share this

कामना पूर्ति का सरल उपाय

अगर आप अपनी मनोकामनाओं को शीघ्र से शीघ्र पूरा करना चाहते हैं तो आपकी इच्छा केवल 7 दिनों में ही पूरी हो सकती है। सप्ताह में केवल 7 दिन होते हैं। हर किसी को भगवान ने केवल सात ही दिन दिए है। इन्हीं 7 दिनों में जीने मरने से लेकर सब कुछ कार्य भी सम्पन्न होते हैं। मिलना-बिछड़ना, खोना-प्राप्त करना भी इन्ही 7 दिनों में होता है। जानें 7 दिन में कैसे मनचाही इच्छा पूरी कर सकते हैं।

जानें राहू कैसे नहीं मिलने देता यश, मान-सम्मान, प्रतिष्ठा और धन दौलत

हर किसी की कामना होती है कि उसके जीवन में किसी भी प्रकार के अभाव न रहे । जीवन में भरपूर सुख सुविधाएं हो, धन हो, समाज में मान सम्मान मिले और इसके लिए व्यक्ति सदैव प्रयास रत भी रहता है। अगर आप भी चाहते है की आपकी हर मनोकामना पूरी हो जाए तो इस काम को केवल 7 दिन जरूर करें, ऐसा करने से बदल सकता है आपका जीवन।

केवल 7 दिनों में पूरी होगी मनचाही इच्छा, कर लें ये काम

हिंदू पंचांग के अनुसार सप्ताह में कुल 7 दिन होते हैं और महीने में 30 दिन। ज्योतिष के अनुसार 7 दिनों में से किसी एक दिन भगवान शिव की पूजा का एक खास दिन होता है जिसे प्रदोष व्रत कहा जाता है। प्रदोष वाले दिन प्रदोष काल में की गई पूजा एवं व्रत सभी मनोकामनाओं की पूर्ति कर देता है। प्रदोष काल शुक्ल पक्ष एवं कृष्ण पक्ष के तेरहवें दिन यानी की त्रयोदशी तिथि में होता है और इस व्रत को रखना शास्त्रों बहुत ही लाभकारी बताया गया है। उपवास रखने के साथ इस दिन भगवान शिव की पूजा घर या शिवालय में करने से सभी पापों का नाश होता है एवं मृत्यु के बाद मोक्ष की प्राप्ति होती है। इस दिन सभी तरह की मनचाही कामना पूर्ति के लिए नीचे दिए शिव मंत्र जप प्रदोष काल में रुद्राक्ष की माला से एक हजार बार करना चाहिए। प्रदोष पूजा का सही समय सूर्यास्त के समय का ही होता है।

केवल 7 दिनों में पूरी होगी मनचाही इच्छा, कर लें ये काम

मंत्र-

।। ॐ पञ्चवक्त्राय विद्महे महादेवाय धीमहि तन्नो रुद्रः प्रचोदयात् ।।

दिन के अनुसार प्रदोष व्रत करने से होते है ऐसे लाभ-

1- रवि प्रदोष- रविवार के दिन व्रत रखने से अच्छी सेहत एवं उम्र लम्बी होती है।

2- सोम प्रदोष- सोमवार के दिन व्रत रखने से सभी मनोकामनाऐं पूर्ण होती है।

3- भौम प्रदोष- मंगलवार के दिन व्रत रखने से बीमारीयों से राहत मिलती है।

अगर आप साईं भक्त है और साईं चालीसा पड़ते समय करते हैं ये गलती तो सावधान!

4- बुध प्रदोष- बुधवार के दिन प्रदोष व्रत रखने से सभी मनोकामनाऐं एवं इच्छाऐं पूर्ण होती है।

5- गुरु प्रदोष- गुरूवार को व्रत रखने से दुश्मनों का नाश होता है।

6- शुक्र प्रदोष- शुक्रवार को व्रत रखने से वैवाहिक जिंदगी एवं भाग्य अच्छा होता है।

7- शनि प्रदोष- शनिवार को व्रत रखने से संतान प्राप्त होती है।

*********






Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *