किसी भी शनिवार को करें ये खास उपाय, बन जाएंगे सभी बिगड़े काम

Share this

शनिदेव को ऐसे करें प्रसन्न करें…

सनातन धर्म में शनिदव का एक खास महत्व माना गया है, इन्हें सूर्य पुत्र के साथ ही न्याय का देवता भी माना जाता है। ज्योतिष में शनि का आपके कर्म का फल देना वाला ग्रह माने जाने के कारण इसे लेकर लोगों में भय भी बना रहता है।

पंडित सुनील शर्मा के अनुसार हिंदू मान्यता के अनुसार अगर व्यक्ति के किसी भी काम में रुकावट आती है, तो कई मामलों में माना जाता है कि उसे शनिदेव की पूजा करनी चाहिए। कहा जाता है कि शनिदेव प्रसन्न होकर व्यक्ति के बिगड़े काम बना देते हैं। साथ ही हर काम में इंसान को सफलता हासिल होने लगती है।

मनुष्य के कर्म और फल से शनिदेव संबंध रखते हैं। ऐसा कहा जाता है कि व्यक्ति का विवाह और संतान का सुख दोनों ही शनिदेव की कृपा के बिना नहीं होते हैं। शनिदेव को प्रसन्न कुछ खास उपायों से किया जा सकता है। वहीं ये भी मान्यता है कि जो कार्य शनि की कृपा से पूर्ण होते हैं वे बहुत मजबूत होते हैं।

MUST READ : अनोखे चमत्कार वाला 5 मंजिला शनि मंदिर, जिसका पांडवों ने कराया था निर्माण

https://www.patrika.com/temples/an-5-storey-shani-temple-with-unique-miracle-6126965/

ऐसे करें शनिदेव की पूजा

1. शनिवार के दिन शनि की पूजा अर्चना से विशेष लाभ सूर्योदय के पहले या सूर्यास्त होने के बाद मिलता है।

2. तिल के तेल का दीपक काले या नीले आसन पर बैठकर जलाना चाहिए।

3. व्यक्ति अपना मुंह पश्चिम दिशा की ओर करके प्राणायाम करें।

4. शनिस्रोत का पाठ लगातार 7 बार सुबह और शाम को ऐसा 27 दिन तक करते रहें।

5. शनिदेव से अपनी समस्या के लिए प्रार्थना करें।

MUST READ  :   यदि सपने में आएं हनुमानजी, तो जानें क्या होने वाला है आपके साथ

https://www.patrika.com/religion-and-spirituality/hanuman-ji-gives-good-and-positive-signs-to-us-6114921/

इन चीजों का रखें खास ध्यान

1. हमेशा सूर्योदय से पहले या सूर्यास्त के बाद शनिदेव की पूजा करनी चाहिए।

2. व्यक्ति को हमेशा साफ सुथरे कपड़े पहन कर और नहा कर शनिदेव की पूजा करनी चाहिए।

3. हमेशा सरसों के तेल या तिल के तेल का इस्तेमाल शनिदेव की पूजा में करना चाहिए।

4. व्यक्ति को शांत मन से हमेशा शनिदेव की पूजा करनी चाहिए।

5. काले या नीले रंग के आसन पर बैठकर शनिदेव की पूजा करें।

6. पीपल के पेड़ के नीचे शनि की पूजा करें।

MUST READ : लुप्त हो जाएगा आठवां बैकुंठ बद्रीनाथ – जानिये कब और कैसे! फिर यहां होगा भविष्य बद्री…

https://www.patrika.com/astrology-and-spirituality/eighth-baikunth-of-universe-badrinath-dham-katha-6075524/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *